खांसी-जुखाम के साथ हुए कोरोना पॉजिटिव तो नहीं मिलेगी होम आइसोलेशन की अनुमति

लखनऊः उत्तर प्रदेश में खतरनाक कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से पांव पसारता जा रहा है। ऐसे में सरकार लगातार सोशल डिस्टेंस, मास्क आदि का इस्तेमाल करने की सलाह दे रही है। वहीं लखनऊ में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए हो रहे प्रयासों की जिलाधिकारी ने समीक्षा की। जिसमें उन्होंने निर्देश दिए कि खांसी-जुखाम, सांस के रोगी यदि टेस्ट में कोरोना पॉजिटिव मिलते हैं तो होम आइसोलेशन की अनुमति नहीं दी जाएगी।

डीएम अभिषेक प्रकाश ने निर्देश दिया कि ऐसे मरीजों के लिए होम आइसोलेशन खतरनाक हो सकता है। खांसी जुखाम, बुखार और सांस के रोगियों का एंटीजन और आरटीपीसीआर दोनों ही टेस्ट कराएं। ऐसे मरीजों को अस्पतालों में
भर्ती कराया जाए ताकि कोरोना से हो रही मौतों की संख्या कम हो सके।

 

Related Articles