शिक्षिका शिल्पा वर्मा की हुई मौत, नहीं बन सकी डिपटी एस. पी

नहीं मंजूर था कुदरत को डिप्टी एस. पी. बनना

*बीकापुर:……
➖➖➖➖➖➖➖➖➖
अयोध्या।…..
======= महेज  कुदरत का करिश्मा न कहे  तो और क्या कहां जाए। … जिस परिवार में खुशी का माहौल था वह मातम में बदल गया।जिस दिन शिक्षिका पद की नियुक्ति को दो साल पूरा हुआ।उसी दिन शिक्षिका की एक्सीडेंट में मौत हो गई।
मौत को सिर्फ एक सप्ताह भी नहीं बीता था कि पीसीएस का रिजल्ट घोषित हुआ जिसमें शिल्पा पीपीएस अधिकारी बन गई।लेकिन कुदरत को शायद यह  मंजूर नहीं था।
*गोंडा जिले के वजीरगंज ब्लॉक में सहायक अध्यापक पद पर तैनात शिल्पा वर्मा इस दुनिया में नहीं हैं।पिछले सोमवार को वजीरगंज बाजार में विद्यालय जाते समय  मार्ग दुर्घटना में उनकी मौत हो गई। शिक्षिका शिल्पा वर्मा अयोध्या जिले के बीकापुर क्षेत्र की रहने वाली थी। शिक्षिका की मौत की खबर मिलते ही शिक्षकों में शोक छा गया।*
*बीकापुर कस्बा निवासी शिव प्रसाद वर्मा एडवोकेट की पुत्री शिल्पा वर्मा थी। शिल्पा वर्मा की बहन कीर्ति वर्मा बीकापुर के दराबगंज सहायक अध्यापक तैनात है।शिल्पा की नियुक्ति 68500 मूल्यांकन में गोंडा जनपद में हुई थी।और दो दिन पहले आये पीसीएस के रिजल्ट में शिल्पा वर्मा डिप्टी एसपी के पद पर चयनित हुई। शिक्षकों का कहना है कि वर्तमान में स्कूलों में कोई काम नहीं है फिर सरकार शिक्षकों को स्कूल में उपस्थित रहने का आदेश दे रखा है।जबकि कोरोना की स्थिति को देखते हुए कहा गया था कि 21 सितंबर के बाद 50% शिक्षकों को स्कूल भेजा जायेगा।

Related Articles