सपाईयों ने बेहाल किसान, बेरोजगारी आदि मुद्दे पर किया प्रदेशव्यापी प्रदर्शन

लखनऊ: बेहाल किसान, बेरोजगारी समेत 6 सूत्रीय मांगों को लेकर सोमवार को समाजवादी पार्टी ने प्रदेशभर में ज्ञापन कार्यक्रम चलाया। इस दौरान राजधानी लखनऊ समेत कई जिलों में सपा कार्यकत्र्ताओं के बीच पुलिस से झड़प हो गई। झड़प के बाद कई जगह सपा कार्यकर्ता धरने पर भी बैठ गए। कई जगह पुलिस ने उनके ऊपर लाठीचार्ज भी किया। बता दें कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के आह्वान पर पार्टी के चारों यूथ विंग (छात्र सभा, मुलायम सिंह यूथ बिग्रेड, लोहिया वाहिनी और युवजन सभा) के कार्यकर्ताओं ने ज्ञापन कार्यक्रम चलाया और प्रदेशभर में जिला मुख्यालयों पर ज्ञापन दिया।

किन मुद्दों पर सौंपा ज्ञापन?
समाजवादी पार्टी की यूथ विंग ने बेहाल किसान, महंगी शिक्षा, बेरोजगारी, निजीकरण, भ्रष्टाचार और नष्ट रोजगार, आरक्षण पर वार और यूपी में बीएड प्रवेश परीक्षा में दलित छात्रों के निशुल्क प्रवेश पर रोक मुद्दे पर ज्ञापन सौंपा। समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने लखनऊ कलेक्ट्रेट में ज्ञापन देने के बाद घंटों धरना दिया। कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं को धरने से उठाया।

 

प्रयागराज में गिरफ्तारी के बाद गाजीपुर-वाराणसी में सपाईयोंं पर लाठीचार्ज
प्रयागराज में प्रदर्शन और ज्ञापन सौंपने के दौरान सपा कार्यकर्ताओं और पुलिस में जमकर झड़प हुई। जिसके बाद पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर 50 से ज़्यादा कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया। इस दौरान पुलिस और सपा कार्यकत्र्ताओं के बीच झड़प हो गई। पुलिस ने कई कार्यकर्ताओं को लाठियों से भी पीटा। जिसकी वजह से कलेक्ट्रेट के पास मची अफरा तफरी मच गई। इस दौरान सपा कार्यकर्ता डटे रहे। गाजीपुर में भी विभिन्न मुद्दों को लेकर सपा के प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने फटकारी लाठिया

 

Related Articles