कोरोना सक्रमण मे भारत सरकार गणेश चतुर्थी एवं मोहर्रम में पण्डाल व शोभायात्रा और जुलूस, ताजिया पर होगी पाबंदी-डीएम

*गृह मंत्रालय भारत सरकार की कोविड-19 गाइडलाइन्स के अनुसार गणेश चतुर्थी एवं मोहर्रम में पण्डाल व शोभायात्रा और जुलूस/ताजिया पर होगी पाबंदी-डीएम।*

सुलतानपुर 20 अगस्त/जिलाधिकारी सी0 इन्दुमती ने बताया कि वर्तमान में कोविड-19 के संक्रमण से पूरा जिला प्रभावित है। 22 अगस्त को गणेश चतुर्थी एवं 30 अगस्त, 2020 को मोहर्रम का त्यौहार आयोजित होंगे। गृह मंत्रालय भारत सरकार की कोविड-19 गाइडलाइन्स का पालन करते हुए उक्त त्यौहार सादगी से मनाया जाय। इन त्यौहारों पर कोई भी जुलूस, झांकी न निकाली जाय एवं किसी भी दशा में भीड़ एकत्रित न होने पाये। भारत सरकार की कोविड-19 महामारी रोकथाम हेतु निर्गत निर्देश का कड़ाई से पालन किया जाय।
जिलाधिकारी ने निर्देशित किया है कि भारत सरकार कोविड-19 महामारी को दृष्टिगत रखते हुए गणेश चतुर्थी के मौके पर कोई भी पूजा पण्डाल में कोई भी मूर्ति स्थापित न की जाय और न ही कोई शोभायात्रा की अनुमति होगी। उन्होंने जनपद वासियों से अपील की है कि कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत गणेश चतुर्थी का त्यौहार अपने-अपने घरों पर ही मनायें। इसी प्रकार मोहर्रम के अवसर किसी प्रकार के जुलूस/ताजिया की अनुमति नहीं होगी एवं धर्मगुरूओं से उन्हांने अपील की है कि संवाद स्थापित कर कोविड-19 के दिशा-निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित करायें।
उन्होंने बताया कि उक्त त्यौहारों पर किसी भी धार्मिक स्थल, सार्वजनिक स्थल एवं कन्टेनमेन्ट जोन, बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन पर भीड़ एकत्र होने पर पूर्णरूप से पाबन्दी रहेगी। इस अवसर पर सोशल मीडिया राउण्ड द क्लाक मानीटरिंग की जायेगी और कोई भी आपत्तिजनक पोस्ट संज्ञान में आने पर प्रभावी कार्यवाही की जायेगी। पूरे जनपद में धारा-144 लागू है, जिसका अनुपालन कड़ाई से किया जाय। उक्त त्यौहारों पर किसी भी दशा में शस्त्रों के प्रदर्शन पर पूर्ण रूप से रोक रहेगी।
उन्होंने बताया कि उक्त त्यौहारों को सादगी एवं सौहार्दपूण मनाये जाने के लिये शासन द्वारा निर्गत गाइडलाइन्स का पालन सम्पूर्ण जनपद में कराने के लिये जिला प्रशासन पूर्ण रूप से कटिबद्ध है।
———————————————————–

Related Articles