नोवेल कोरोना वायरस(कोविड–19) के संक्रमण की मार का असर

सुल्तानपुर 25 जुलाई/ अपर जिलाधिकारी (वि०/रा०) उमाकांत त्रिपाठी ने अवगत कराया कि वर्तमान में नोवेल कोरोना वायरस(कोविड–19) के संक्रमण से बचाव/ रोकथाम हेतु पूरा देश अनलॉकडाउन है। जनपद सुलतानपुर मे मेडिकल क्वारंटाइन मे रखे गये 2110 व्यक्तियो मे से 2108 व्यक्तियो को स्वस्थ्य होने पर डिस्चार्ज किया गया, जिनमें 02 व्यक्ति अभी शेष हैं। ग्रामीण क्षेत्रो मे 124935 व्यक्तियो एंव शहरी क्षेत्र में 1767 व्यक्तियो को होम क्वारंटाइन मे रखा गया है, जिसमे से क्रमश: 1767 व 30 व्यक्ति निगरानी मे है। जनपद मे विभिन्न स्थलो पर कुल 49 आश्रय स्थल (शेल्टर होम ) बनाये गये है, जिसमे चिकित्सीय/ शौचालय/बिस्तर सैनिटाइजर / साबुन/भोजन/ साफ-सफाई एंव सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुये प्रतिपादित किया जा रहा है, जिसमे अब तक 2802 व्यक्तियो को आश्रय स्थल मे रखा गया था, जिसमे से 2802 व्यक्तियो को क्वारंटाइन अवधि पूर्ण होने पर उन्हे मुक्त किया जा चुका है तथा 01 मई, 2020 से अन्य राज्य/जनपदो से अब तक कुल 65975 व्यक्ति आये जिन्हे स्क्रीनिंग के पश्चात् उनको होम कोरंटाइन किया गया।
उक्त सभी आये प्रवासी श्रमिको को ग्रामीण क्षेत्र/शहरी क्षेत्र मे होम क्वारंटीन किया गये सभी व्यक्ति निगरानी मे है। नगरीय क्षेत्रो मे कुल 56 वार्डो एंव ग्रामीण क्षेत्र मे 986 ग्राम पंचायतो मे निगरानी समिति का गठन कर उपरोक्त व्यक्तियो का निगरानी करायी जा रही है।
शासन की मंशानुसार जनपद मे अनलाकडाउन-02 का पालन कराया जा रहा है। जनपद मे कोरोना पाजिटिव क्षेत्र को कन्टेनमेन्ट जोन बनाया गया है तथा हाट स्पाट के रूप मे चिन्हित स्थान पर शासन के निर्देशानुसार सभी आवश्यक व्यवस्थाये की गायी है नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों मे समितियो का गठन करके साफ – सफाई, सैनिटाइजेशन का कार्य कराया जा रहा है | अब तक लाकडाउन/अनलाकडाउन का पालन न करने वाले 789 व्यक्तियो के विरूद्ध एफ0आई0 आर0 करायी गयी है, 212 वाहन सीज किये गये है तथा 2373 व्यक्तियो को गिरफतार किया गया है। इसके अतिरिक्त महामारी अधिनियम के अन्तर्गत अब तक कुल 562 एफ0आई0 आर0 तथा अबतक 1210 गिरफतारी की गयी है।
जनपद सुलतानपुर मे कोरोना वायरस की जॉच हेतु अबतक कुल 15077 नमूना लिया गया जिसमे से 14193 नमूना की जाँच प्राप्त हुयी। 884 नमूनो की जॉच रिपोर्ट आना शेष है। जनपद सुलतानपुर मे कोरोना पॉजिटिव मरीजो की कुल संख्या 481 है, जिसमे से 330 मरीज ठीक हो गये तथा 12 व्यक्ति की मृत्यु हो गयी है। अवशेष 139 मरीज का इलाज चल रहा है।
————————————————————–

Related Articles